YPSH-Young People Sexual Health

युवा लोग बदल रहे है, हर दिन हर पल। इसके साथ-साथ निजी रिश्तों, यौन स्वास्थ्य, सेक्स और यौन स्वास्थ्य को लेकर उनका नज़रिया और भी खुल रहा है। वहीं दूसरी ओर इन मुद्दों पर सालों की चुप्पी और “सेंसरशिप” आज भी उतनी ही मज़बूती से बनी हुई है।

भारत में आज भी घरों में इन विषयों पर सीमित बातचीत ही होती है। एक सर्वेक्षण के मुताबिक सिर्फ एक-तिहाई माता-पिता ही इन विषयों पर अपने बच्चों से बात करते हैं, या उन्हें शिक्षित करते हैं। हकीकत तो यह है कि इन मामलों में आज भी जागरुकता का भारी अभाव है, ऐसे मे युवा इंटरनेट और दूसरी चीज़ों का सहारा लेते हैं, और शायद वहाँ से मिली आधी-अधूरी जानकारी के आधार पर ही कुछ निजी निर्णय ले लेते हैं और कई बार गुमराह होते रहते हैं। सवाल ये उठता है की आख़िर इन ज़रूरी मुद्दों पर वो सही और विश्वसनीय जानकारी कहाँ से हासिल करें? 

CMAC एक मल्टीमीडिया संप्रेषण संस्थान है जो एक अभियान शुरू करने जा रहा है, यह अभियान एक रेडियो प्रोग्राम – ‘जानम सुना करो’ – इंटरनेट रेडियो, और ट्रैनिंग के ज़रिए विभिन्न वर्गों तक पहुँच पाएगा। इन सब अभियानों का उद्देश्य युवाओं को बिना किसी सनसनीखेज़ तरीके से, आसान व सामान्य शब्दों में यौन स्वास्थ्य, सेक्स, निजी रिश्तों और प्रजनन स्वास्थ जैसे मुद्दों पर जानकारी पहुँचाना होगा। साथ ही यह अभियान मीडीया संस्थानो और कम्युनिटी रेडियो (सामुदायिक रेडियो ) को ट्रैनिंग द्वारा इस दिशा में आने वाली चुनौतियों से उभरने के लिए भी मददगार साबित होगा। 

इस दिशा में हम अपना पहला कदम उठा चुके हैं, जहाँ हमने प्रजनन स्वास्थ से सम्बंधित उदाहरण के तौर पर माहावारी, गर्भनिरोधन, साफ़सफ़ाई, घरेलू हिंसा आदि पर लगभग 2 मिनट के जानकारी कैप्सूल्स एक कम्युनिटी रेडियो पर प्रस्तुत किए हैं, जहाँ यह जानकारी कैप्सूल्स बहुत लोकप्रियता हासिल कर चुके हैँ।इन्ही में से एक कैप्सूल्स की झलकी आप नीचे सुन सकते हैं।

जानकारी कैप्सूल्स_माहावारी

CMAC  इन कैप्सूल्स को अलग अलग स्टेशन पर प्रचार के लिए प्रतिबंधित है। यदि आप किसी स्टेशन पर यह इस्तेमाल करना चाहते हैं तो हमसे संपर्क करें।

इस कार्यक्रम पर और अधिक जानकारी के लिए आप हमें cmacindia@gmail.com पर संम्पर्क कर सकते है।